Dhatu (Kriya) kise kahate hain

धातु (क्रिया) किसे कहते हैं | Dhatu Kriya kise kahate hain


Dhatu Kriya kise kahate hain: क्रिया के मूल अंश (अंग) को धातु कहते हैं।
जैसे- उठ, चल, देख, लिख, उड़ आदि।

धातु के भेद | Dhatu Ke Bhed

धातु के निम्नलिखित पांच भेद होते हैं-

1.सामान्य धातु या मूल धातु
2.व्युत्पन्न धातु या यौगिक धातु
3.नामधातु
4.समिश्र धातु
5.अनुकरणात्मक धातु
Dhatu Kriya kise kahate hain

सामान्य धातु किसे कहते हैं?

मूल धातु में “ना प्रत्यय” जोड़कर बनाए गए शब्द को सामान्य धातु कहते हैं।
जैसे-
पढ़+ना= पढ़ना
उठ+ना=उठना
उपयुक्त उदाहरण से स्पष्ट हो रहा है की मूल धातु पढ़ में ना प्रत्यय जोड़कर पढ़ना शब्द बनाया गया है। इसलिए पढ़ना सामान्य धातु है। वैसे ही उठना भी सामान्य धातु है।
नोट- मूल धातु स्वतंत्र होते हैं।
जैसे- पढ़, उठ

व्युत्पन्न धातु किसे कहते हैं?

जो धातु सामान्य धातु में प्रत्यय जोड़कर अथवा किसी अन्य प्रकार से बनाई जाती है। उसे व्युत्पन्न धातु कहते हैं।
जैसे- पढ़ना- पढ़ाना, पढवाना
उठना- उठाना, उठवाना

नामधातु किसे कहते हैं?

संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण शब्दों में प्रत्यय जोड़कर जो धातु बनते हैं। उसे नामधातु कहते हैं। आमतौर पर नाम धातु में “आ” प्रत्यय का प्रयोग होता है।
संज्ञा- बात – बतियाना
सर्वनाम- तुम – तुम्हारा
विशेषण- सुंदर – सुंदरता

समिश्र धातु किसे कहते हैं?

संज्ञा, विशेषण और क्रिया विशेषण शब्दों के पश्चात करना या होना, क्रिया शब्द जोड़कर बनाए गए रूप को समिश्र धातु कहते हैं।
जैसे- सुंदर – सुंदर बनना
पढ़ना- पढ़ाई करना

अनुकरणात्मक धातु किसे कहते हैं?

ध्वनियों के अनुकरण पर बनाई जाने वाली धातु शब्द अनुकरणात्मक धातु कहलाती है।
जैसे- टिम टिम- टिमटिमाना
बक बक- बकबकाना
सन सन- सनसनाना

Dhatu Kriya kise kahate hain

ये भी पढ़े-

Dhatu (Kriya) kise kahate hain
Dhatu (Kriya) kise kahate hain


Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close
Scroll to Top