मित्रमय होना – नैतिक कहानी | Being Friendly – Moral Story

0
225

मित्रमय होना – नैतिक कहानी | Being Friendly – Moral Story

 

मित्रमय होना - नैतिक कहानी | Being Friendly - Moral Story

राजा एक बहुत ही प्यारा बच्चा था । उसके बहुत सारे दोस्त थे ।  वह अपनी प्यारी – प्यारी बातों से सभी को तुरंत अपना दोस्त बना लेता था । वह अपने पास के खिलौनों, चॉकलेट अपने दोस्तों के साथ मिल-बाँटकर बहुत सारा मस्ती करता था । सभी बच्चे राजा को बहुत पसंद करते थे। क्योंकि वह अपने दोस्तों से कभी भी झगड़ा नहीं करता था । उनका हर बात का ख्याल रखता था ।

राजा को भी उसके सभी दोस्त सदा खुश और मुस्कुराता हुआ देखना पसंद करते थे । इसीलिए हमें राजा के जैसा बनने की कोशिश करनी चाहिए, जो हमेशा अपने दोस्तों को खुशी दे और उनकी मदद करें तथा राजा के जैसा बन कर सभी का प्यार पाएँ।

ये कहानी भी पढ़े –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here