Sun in Hindi | सूर्य क्या है

0
284

Sun in Hindi (सूर्य क्या है?): सूर्य हमारे सौरमंडल का सबसे बड़ा हिस्सा है। सूर्य हमारी ऊर्जा का मुख्य स्रोत है। सूर्य सौरमंडल का मुखिया कहलाता है। सूर्य गैस का एक विशाल गोला है। सूर्य में 74% हाइड्रोजन 24% हिलियम तथा 2% अन्य तत्व मौजूद है।

Sun in Hindi
Sun in Hindi

सूर्य अगर अपनी उर्जा देना बंद कर दे तो हमारा अस्तित्व खत्म हो जाएगा। सूर्य का प्रकाश हमारी धरती तक पहुंचने में 8 मिनट 22 सेकंड का समय लगाता है। हमारे सौरमंडल में 8 ग्रह है। जो सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाते हैं। यह सभी ग्रह सूर्य के गुरुत्वाकर्षण के कारण ही अपनी कक्षा में लगातार चक्कर लगाते रहते हैं।

सभी ग्रहों के पास अपना-अपना गुरुत्वाकर्षण सकती है। मगर सूर्य के पास सबसे ज्यादा गुरुत्वाकर्षण शक्ति है। अगर यह गुरुत्वाकर्षण शक्ति नष्ट हो जाए तो सभी ग्रह अपने धुरी से हटकर इधर-उधर अंतरिक्ष में बिखर जाएंगे। ग्रहों में गुरुत्वाकर्षण शक्ति की मौजूदगी के कारण ही वे आपस में टकरा नहीं पाते हैं। सूर्य का गुरुत्वाकर्षण शक्ति हमारे धरती की तुलना में 28 गुना ज्यादा है।

सूर्य का आकार इतना अधिक है कि अगर सभी ग्रहों, धूमकेतु, उल्का पिंडों को मिला दिया जाए तो भी वह सूर्य के अंदर समा जाएंगे। सूर्य के चारों ओर सभी आठ ग्रह चक्कर लगाते हैं तो सूर्य भी इन सभी आठ ग्रहों को साथ लेकर ब्लैक होल का चक्कर लगाते हैं। हमारा सूर्य ब्लैक होल से 30000 प्रकाश वर्ष दूर है। सूर्य अपनी धुरी पर एक चक्कर लगाने में 25 दिन का समय लेता है।

सूर्य हाइड्रोजन और हीलियम से ऊर्जा पैदा करता है। सूर्य के सतह पर लगातार हाइड्रोजन के विस्फोट होते रहते हैं। सूर्य अपनी ऊर्जा केंद्र से उत्सर्जित करता है। सूर्य से निकला हुआ ऊर्जा का 2 अरबवाँ हिस्सा ही पृथ्वी तक पहुंच पाता है। बाकी 15% अंतरिक्ष में जाता है।

सूर्य का रंग सफेद होता है। मगर जब हम सूर्य को पृथ्वी के वातावरण से देखते हैं तो इसका रंग पीला दिखाई पड़ता है। हमारे अंतरिक्ष में कई सौरमंडल उपस्थित है और सबका अपना-अपना सूर्य हैं। सौरमंडल का 99.85% द्रव्यमान सूर्य में मौजूद है। सूर्य का व्यास लगभग 13 लाख 90000 किलोमीटर है। यह पृथ्वी से लगभग 109 गुना अधिक है। पृथ्वी से इसकी औसत दूरी 150 मिलियन किलोमीटर दूर है।

सूर्य परमाणु विलय के कारण ही अपने केंद्र में उर्जा पैदा करता है। सूर्य से निकलने वाली ऊर्जा का एक छोटा भाग ही पृथ्वी तक पहुंच पाता है। सूर्य से निकलने वाली ऊर्जा का अत्यधिक भाग अगर पृथ्वी पर आता तो हमारी पृथ्वी रहने योग्य नहीं रहता। सूर्य हर सेकंड 600 मिलियन टन हाइड्रोजन को हीलियम में बदलता रहता है तथा इसका कोर तापमान 27 मिलियन डिग्री फारेनहाइट है।

सौर पवन किसे कहते हैं?

सौर पवन- सूर्य के वाह्य वातावरण से आने वाले आवेशित कणों को सौर पवन कहते हैं। इन कणों में मुख्य रूप से प्रोटोन और इलेक्ट्रॉन होते हैं। जिन्हें प्लाज्मा भी करते हैं।

FAQ – Sun in Hindi

  1. सूर्य क्या है?

    सूर्य गैस का एक विशाल गोला है। सूर्य में 74% हाइड्रोजन 24% हिलियम तथा 2% अन्य तत्व मौजूद है।

  2. सूर्य का व्यास कितना है?

    सूर्य का व्यास लगभग 13 लाख 90000 किलोमीटर है।

  3. सूर्य का प्रकाश पृथ्वी पर आने में कितना समय लगता है?

    सूर्य का प्रकाश हमारी धरती तक पहुंचने में 8 मिनट 22 सेकंड का समय लगाता है।

  4. सूर्य पृथ्वी से कितना बड़ा है?

    सूर्य, पृथ्वी से लगभग 109 गुना अधिक बड़ा है।

  5. सूर्य का द्रव्यमान कितना है?

    सूर्य का द्रव्यमान 1.989 × 10 ^ 30 KG है।

ये भी पढ़ें-

हमें फेसबुक पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here