Vidyalay Mein Aayojit Bhashan Pratiyogita Mein Vijayi Ghoshit Hone Ka Varnan Karte Hue Patra | अपने मित्र को विद्यालय में आयोजित भाषण प्रतियोगिता में विजयी घोषित होने का वर्णन करते हुए पत्र लिखिए

अपने मित्र को विद्यालय में आयोजित भाषण प्रतियोगिता में विजयी घोषित होने का वर्णन करते हुए पत्र लिखिए (Vidyalay Mein Aayojit Bhashan Pratiyogita Mein Vijayi Ghoshit Hone Ka Varnan Karte Hue Patra)

0
129

अपने मित्र को विद्यालय में आयोजित भाषण प्रतियोगिता में विजयी घोषित होने का वर्णन करते हुए पत्र लिखिए (Vidyalay Mein Aayojit Bhashan Pratiyogita Mein Vijayi Ghoshit Hone Ka Varnan Karte Hue Patra)

वजीराबाद गाँव
नई दिल्ली
दिनांक dd/mm/yyyy
प्रिय मयंक
शुभ प्यार,

मैं यहाँ परिवार सहित कुशलपूर्वक हूँ। आशा करता हूँ कि तुम भी वहाँ परिवार सहित सकुशल होंगे। इस पत्र के द्वारा मैं तुम्हें अपने विद्यालय में हुए भाषण प्रतियोगिता के बारे में बता रहा हूँ। मेरे विद्यालय में बाल दिवस के अवसर पर 14 नवंबर को भाषण प्रतियोगिता आयोजित की गई थी। इस प्रतियोगिता में मेरे भाषण देने की कला और विषयानुकूल आवाज में उतार-चढ़ाव आदि के आधार पर मुझे विजयी घोषित किया गया।

मैं इस प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त किया हूँ। आज यह पत्र लिखकर तुम्हारे साथ मैं अपनी खुशी बाँट रहा हूँ। तुम पत्र का जवाब शीघ्र देना।
तुम्हारा मित्र
विराज

Vidyalay Mein Aayojit Bhashan Pratiyogita Mein Vijayi Ghoshit Hone Ka Varnan Karte Hue Patra | अपने मित्र को विद्यालय में आयोजित भाषण प्रतियोगिता में विजयी घोषित होने का वर्णन करते हुए पत्र लिखिए

Vidyalay Mein Aayojit Bhashan Pratiyogita Mein Vijayi Ghoshit Hone Ka Varnan Karte Hue Patra
Vidyalay Mein Aayojit Bhashan Pratiyogita Mein Vijayi Ghoshit Hone Ka Varnan Karte Hue Patra

ये पत्र भी पढ़ें-

हमें फेसबुक पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here