स्मृति मंधाना का जीवन परिचय | Smriti Mandhana Biography In Hindi

0
1556

स्मृति मंधाना का जीवन परिचय (Smriti Mandhana Biography In Hindi): हमारे देश भारत में सबसे लोकप्रिय खेल क्रिकेट है। हमारे देश में क्रिकेट सभी आयु वर्ग के लोगों को अपनी ओर आकर्षित करता है। पुरुष क्रिकेट खेल तो लोगों के दिलों दिमाग पर छाया हुआ था ही मगर आज के समय में महिला क्रिकेट भी लोगों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करने में कामयाब हो गई है।

वह अपनी मेहनत और लगन के कारण लगातार अपना अच्छा प्रदर्शन कर रही है। जिसकी वजह से उनकी लोकप्रियता हमारे देश में बढ़ रही है। महिला क्रिकेट को देखने का नजरिया लोगों में बदला है। आज के समय में दर्शकों द्वारा महिला क्रिकेट टीम को काफी प्रोत्साहन और प्रशंसा मिल रही है।

Smriti Mandhana Biography In Hindi
Smriti Mandhana Biography In Hindi स्मृति मंधाना का जीवन परिचय

आज इसी क्रिकेट टीम की एक मेधावी महिला खिलाड़ी की बात करने जा रहे हैं। जो खूबसूरत तो है ही उससे कहीं ज्यादा क्रिकेट को खूबसूरती से खेलती है। जिसकी वजह से वे अपना नाम भारत ही नहीं पूरे विश्व के क्रिकेट जगत में अपना नाम रोशन किया है। उन्हें आज किसी पहचान की जरूरत नहीं है। बल्कि ऐसे ही मेधावी और मेहनती खिलाड़ियों की वजह से खेल की दुनिया चमकती आ रही है। इस क्रिकेट सनसनी महिला क्रिकेट खिलाड़ी का नाम है स्मृति मंधाना, जिसे पूरी दुनिया मंधाना के नाम से जानती हैं।

स्मृति मंधाना का जीवन परिचय | Smriti Mandhana Biography In Hindi

नामस्मृति श्रीनिवास मंधाना
जन्म18 जुलाई सन 1996
पिता का नामश्रीनिवास मंधाना
माता का नामस्मिता मंधाना
भाई का नामश्रवण मंधाना
आयु26 वर्ष
हाईट 5 फुट 4 इंच
जन्म स्थानमुंबई, महाराष्ट्र
राष्ट्रीयताभारतीय
पेशाक्रिकेट
धर्महिन्दु
जातिमारवाड़ी
मुख्य अवार्ड2019 में अर्जुन पुरस्कार
राशिकर्क
जर्सी नंबर18
डेब्यू (अंतराष्ट्रीय)उन्होंने 2013 में बांग्लादेश के विरुद्ध ओडीआई और टी 20 खेल कर अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखा था।

स्मृति मंधाना का पारिवारिक जीवन

भारतीय महिला क्रिकेट की सनसनी स्मृति मंधाना का जन्म 18 जुलाई 1996 को मुंबई, महाराष्ट्र में हुआ था। इनका जन्म एक मारवाड़ी समुदाय में हुआ है। इनके पिताजी का नाम श्री निवास मंधाना तथा माता जी का नाम श्रीमती स्मिता मंधाना है।

मंधाना का एक बड़ा भाई है, जिसका नाम श्रवण मंधाना है। इनके पिता जी तथा भाई जिला स्तर के क्रिकेटर रह चुके हैं। श्रवण मंधाना सांगली के एक निजी बैंक में ब्रांच मैनेजर के पद पर कार्यरत हैं। श्रवण मंधाना की शादी हो चुकी है।

इनके माता जी एक गृहणी है। जिन्होंने स्मृति मंधाना को एक सफल क्रिकेटर बनाने में काफी सहायक रही है। स्मृति का पूरा नाम स्मृति श्रीनिवास मंधाना है। इनकी तत्कालिक उम्र 26 वर्ष है। जब इनकी आयु मात्र 2 वर्ष थी तब इनका पूरा परिवार माधवनगर, सांगली, महाराष्ट्र में आकर बस गए थे। इन्होंने अपनी शुरुआती शिक्षा सांगली से ही की है।

स्मृति मंधाना की शिक्षा

इनकी शुरुआती शिक्षा सांगली से ही हुई है। यहीं से उन्होंने प्रारंभिक तथा स्नातकोत्तर किया। उसके बाद उन्होंने चिंतामनराव कॉलेज ऑफ कॉमर्स से बीकॉम की डिग्री हासिल की। स्मृति मंधाना पढ़ाई में भी काफी अच्छी रही हैं।

स्मृति मंधाना का क्रिकेट करियर

स्मृति का क्रिकेट की ओर आकर्षण बहुत ही कम उम्र में हो गया था। परिवार में पिता जी और भाई दोनों जिला स्तर के क्रिकेटर रह चुके थे। घर में अपने भाई को क्रिकेट खेलता देख स्मृति मंधाना भी क्रिकेट की ओर आकर्षित हो गई। जिस उम्र में बच्चे खिलौने और दूसरी चीजों से खेलते हैं, उस उम्र में मंधाना क्रिकेट का बल्ला घुमाती थी। उनके पिताजी, स्मृति मंधाना और उनके भाई को क्रिकेट की प्रैक्टिस कराते थे।

उनके पिताजी को लगता था कि क्रिकेट की प्रैक्टिस हमेशा क्रिकेट के पोशाक में ही होनी चाहिए। स्मृति मंधाना इतनी छोटी थी कि उनको कोई भी पोशाक फिट नहीं होती थी। तब उनकी मां घर में ही सिलाई मशीन पर उनके पोशाक को फिट किया करती थी।

स्मृति की क्रिकेट खेलने में रुचि देखकर उनके माता-पिता और भाई सभी उन्हें प्रोत्साहित करते थे। स्मृति मंधाना अपने सभी काम दाहिने हाथ से करती हैं। परंतु वह क्रिकेट बाए हाथ से खेलती है। क्योंकि उनके पिताजी शुरू से ही दोनों भाई-बहन को बाएं हाथ से खेलने की ट्रेनिंग दी थी। परिवार में क्रिकेट का माहौल ही उनके अंदर क्रिकेट के प्रति रुचि विकसित किया।

उनमें क्रिकेट खेलने की प्रेरणा अपने भाई श्रवण मंधाना से मिली। जब श्रवन मंधाना क्रिकेट खेलते थे। तब वे बड़े ही चाव से उन्हे देखती थी। वे मन में ठान ली थी कि मुझे भी क्रिकेट में करियर बनानी है। शुरुआती समय में उनके कोच अनंत तंबवेकर थे। जो जूनियर राज्य स्तर के कोच थे। कुछ समय पहले भारत में केवल पुरुष क्रिकेट टीम की पहचान थी। मगर आज के समय में महिलाओं द्वारा क्रिकेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन के कारण भारतीय महिला क्रिकेट टीम भी अपनी पैठ बना ली है। यही कारण है कि आज उन्हें डब्ल्यू पी एल (WPL) खेल में खेलने का सुनहरा अवसर दिया जा रहा है। जो उनके क्रिकेट करियर को और बेहतर बनाएगा।

स्मृति मंधाना का घरेलू (डोमेस्टिक) क्रिकेट करियर

स्मृति मंधाना 9 वर्ष की कम आयु से ही क्रिकेट खेल रही हैं। अपनी प्रतिभा के कारण मात्र 9 वर्ष की आयु में उनका चयन अंडर – 15 टीम के लिए हुआ। अपने खेलने की कुशलता के कारण जल्द ही उनका चयन अंडर-19 क्रिकेट टीम के लिए भी हो गया। स्मृति मंधाना की पहली सफलता अक्टूबर 2013 में एकदिवसीय मैच में शतक हासिल करने वाली पहली महिला क्रिकेटर बनी। उसके बाद महाराष्ट्र टीम की तरफ से गुजरात के खिलाफ खेलने पर हुआ था। उन्होंने अंडर-19 टूर्नामेंट में 150 गेंद पर 224 रन बनाए थे। उन्होंने तीन अर्धशतक बनाकर अपनी टीम को भारत ब्लू के खिलाफ फाइनल में 82 गेंद पर 62 रन बनाकर महिला चैलेंजर ट्रॉफी जीत ली।

स्मृति मंधाना सबसे तेज अर्धशतक बनाने वाली महिला बल्लेबाज बन गई। उन्होंने यह रिकॉर्ड 2019 में न्यूजीलैंड के खिलाफ बनाया था। क्रिकेट की दुनिया में चाहे वह महिला क्रिकेट हो या पुरुष में T20 इंटरनेशनल में सबसे कम उम्र में कप्तानी संभालने वाले भारतीय महिला बन गई। उस समय मात्र वह 22 वर्ष की थी। वह भारतीय महिला क्रिकेट टीम की सबसे दिग्गज बैट्समैन के रूप में पहचानी जाती है।

स्मृति मंधाना का इंटरनेशनल करियर

स्मृति ने अपना इंटरनेशनल टेस्ट मैच 2014 में वर्मस्ली पार्क में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था। उन्होंने अपना पहला अंतरराष्ट्रीय शतक 2016 में भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे के होबार्ट में बेलरिवे ओवल के दूसरे वनडे मैच में बनाया था। उन्होंने 109 गेंदों में 102 रन बनाया। T20 मुकाबले में शतक बनाने वाली खिलाड़ी में वे दूसरी भारतीय महिला है। अपने शानदार खेल की वजह से उन्होंने अपना नाम भारतीय महिला खिलाड़ी की एकमात्र खिलाड़ी के रूप में आईसीसी के महिला टीम में अपना नाम दर्ज कराया।

2017 के वर्ल्ड कप में स्मृति ने क्वालीफायर मुकाबले में इंग्लैंड के खिलाफ 90 रनों की शानदार और बहुमूल्य पारी खेली थी। भारतीय महिला टीम को फाइनल तक पहुंचाने में उनका अहम योगदान था।

स्मृति मंधाना को 2023 में आयोजित डब्ल्यू पी एल (WPL) ऑक्शन मैं खेलने वाली पहली महंगी खिलाड़ी है। इन्हें आरसीबी ने 3.4 करोड़ में खरीदा है। भारतीय महिला टीम के लिए यह गर्व तथा बड़ी उपलब्धि है।

पुरस्कार

वर्षअवार्ड
2018बीसीसीआई द्वारा बेस्ट विमेन इंटरनेशनल क्रिकेटर अवार्ड
2019आईसीसी वूमेन ऑफ द ईयर अवार्ड
2019ICC वीमेन ODI ओडीआई प्लेयर ऑफ द ईयर
2019अर्जुन पुरस्कार ( भारत सरकार द्वारा )
2021ICC Women of The Year

इनकी भी जीवनी पढ़ें-

हमें फेसबुक पर फॉलो करें।

FAQ – Smriti Mandhana

Q : स्मृति मंधाना किसकी बेटी है?

ANS : पिता- श्रीनिवास मंधाना, माता- स्मिता मंधाना

Q : स्मृति मंधाना का कौन सा राज्य है?

ANS : महाराष्ट्र

Q : स्मृति मंधाना का भाई कौन है?

ANS : श्रवण मंधाना

Q : क्या स्मृति मंधाना की शादी हो गई?

ANS : नहीं

Q : स्मृति मंधाना जर्सी नंबर क्या है ?

ANS : 18

Q : स्मृति मंधाना किस आईपीएल टीम में है ?

ANS : मंधाना को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु में अपनी टीम में खरीदा है।

Q : स्मृति मंधाना का आईपीएल 2023 प्राइस कितना है ?

ANS : 3.40 करोड़

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here